शुक्रवार 7 सफ़र 1442 - 25 सितंबर 2020
हिन्दी

रमज़ान के दौरान स्त्रीरोग विशेषज्ञ के पास जाने का हुक्म

प्रश्न

रमज़ान के दौरान स्त्री रोग विशेषज्ञ के पास जाने का क्या हुक्म हैॽ

उत्तर का पाठ

हर प्रकार की प्रशंसा और गुणगान केवल अल्लाह तआला के लिए योग्य है।.

महिला को चिकित्सा जाँच और स्वास्थ्य चेक-अप के उद्देश्य से महिला चिकित्सक के पास जाने से मनाही नहीं है। लेकिन इस शर्त के साथ कि जननांगों को खोलने के मुद्दे में इस्लामी शरीयत के नियमों (दिशानिर्देशों) का पालन किया जाए। इन दिशानिर्देशों का उल्लेख प्रश्न संख्या : (5693) के उत्तर में किया जा चुका है।

जहाँ तक हाथ या एंडोस्कोप (गुहांतदर्शी) के द्वारा आंतरिक गर्भाशय की जांच का संबंध है, तो इससे रोज़ा नहीं टूटता है। प्रश्न संख्या : (38023) के उत्तर में उन चीजों का विस्तृत उल्लेख किया गया है, जिनसे रोज़ा टूट जाता है और जिन चीजों से रोज़ा नहीं टूटता है। वहाँ जो कुछ उल्लेख किया गया है, उनमें से कुछ निम्नलिखित हैं :

“जिन चीज़ों से रोज़ा नहीं टूटता है :

चिकित्सीय जाँच के लिए, योनि में सपोजिटरी (बत्ती), या अंतरंग वाश,  या कोल्पस्कोप (योनिभित्तिदर्शी), या उंगली डालना।

गर्भाशय में एंडोस्कोप या आईयूडी लगाना।

कोई भी चीज़ जो किसी पुरुष या महिला के मूत्र पथ में दाखिल की जाती है, जैसे कि कैथेटर (सूक्ष्म ट्यूब), या एंडोस्कोप, या एक्स-रे में उपयोग किया जाने वाला छायांकित पदार्थ (रेडियोकंट्रास्ट एजेंट), या दवा, या मूत्राशय को धोने के लिए घोल।” उद्धरण समाप्त हुआ।

और अल्लाह तआला सबसे बेहतर जानता है।

स्रोत: साइट इस्लाम प्रश्न और उत्तर