मंगलवार 15 शव्वाल 1440 - 18 जून 2019
हिन्दी

तरावीह की नमाज़ और शबे-क़द्र

48965

01-06-2019

क़द्र की रात को जागना और उसका जश्न मनाना

01-06-2019

222372

29-05-2019

पैगंबर सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम रमज़ान के दौरान या किसी अन्य समय में (रात की नमाज़) ग्यारह रकअत से अधिक नहीं नहीं पढ़ते थे

29-05-2019

3457

27-05-2019

महिलाओं के लिए तरावीह की नमाज़ का हुक्म

27-05-2019

9036

24-05-2019

तरावीह की नमाज़ की रकअतों की संख्या

24-05-2019

3452

06-06-2018

रमज़ान में क़ियामुल्लैल की प्रतिष्ठा

06-06-2018

50547

06-06-2016

तरावीह की नमाज़ रमज़ान की पहली रात या दूसरी रात से आरंभ करें गे?

06-06-2016

38922

01-01-2016

क्या घर में तरावीह की नमाज़ पढ़ना जायज़ है

01-01-2016

38270

14-08-2015

रमज़ान में इशा की नमाज़ को विलंब करना

14-08-2015

3456

14-07-2015

तरावीह में इमाम का अनुपालन करना यहाँ तक कि वह फारिग हो जाए

14-07-2015

3453

10-07-2015

जब कोई व्यक्ति इमाम के वित्र पर एक रकअत की वृद्धि करे ताकि वह वित्र बाद में पूरा करे

10-07-2015

38400

08-07-2015

यदि कोई व्यक्ति इमाम के बाद नमाज़ पढ़ता है, तो क्या एक ही रात में दो बार वित्र पढ़ेगा?

08-07-2015

128688

08-08-2014

हर रात वित्र में क़ुनूत पढ़ने पर पाबंदी करना

08-08-2014

128165

01-08-2014

क्या जिसने तरावीह की नमाज़ की शुरूआत कर दी है उसके लिए उसे पूरा करना ज़रूरी है?

01-08-2014

38021

25-07-2014

तरावीह की नमाज़ बिदअत नहीं है और उसकी कोई निश्चित संख्या नहीं है

25-07-2014

1255

28-07-2013

नमाज़ के अंदर मुसहफ (क़ुरआन) से देखकर पढ़ने का हुक्म

28-07-2013

प्रतिक्रिया भेजें