रविवार 15 मुहर्रम 1446 - 21 जुलाई 2024
हिन्दी

तंग कपड़ों में नमाज़ पढ़ने का हुक्म

प्रश्न

तंग कपड़ों में नमाज़ पढ़ने का क्या हुक्म हैॽ क्या उन्हें पहनने वाला लोगों को नमाज़ पढ़ा सकता हैॽ

उत्तर का पाठ

हर प्रकार की प्रशंसा और गुणगान केवल अल्लाह तआला के लिए योग्य है।.

“तंग कपड़े पहनना पुरुषों और महिलाओं सभी के लिए मकरूह (नापसंदीदा) है। धर्मसंगत यह है कि कपड़े मध्यम होने चाहिए, न तो तंग जो गुप्तांगों के आकार को दर्शाते हों, और न ही चौड़े, बल्कि उनके बीच का होना चाहिए।

जहाँ तक (ऐसे कपड़ों में) नमाज़ पढ़ने का सवाल है, तो वह सही है - अगर वह शरीर को ढकने वाला है -, लेकिन मोमिन पुरुष तथा महिला के लिए ऐसे कपड़े पहनना मकरूह (नापसंदीदा) है। पोशाक तंग और चौड़ी के बीच होनी चाहिए। यही उचित है।” उद्धरण समाप्त हुआ।

“मजमूओ फ़तावा शैख इब्न बाज़” (29/217)

स्रोत: साइट इस्लाम प्रश्न और उत्तर