सोमवार 15 रबीउस्सानी 1442 - 30 नवंबर 2020
हिन्दी

164414

05-11-2020

वह अपने पति के हुक्म के बारे में पूछती है जो जादूगरों के पास गया था और वह नमाज़ छोड़ने वाला था

05-11-2020

317276

23-08-2020

उसने अपनी पत्नी की माँ (सास) से फोन पर कहा : “उससे कहो कि (तुझे) तलाक़, तलाक़, तलाक़”

23-08-2020

20660

23-06-2020

उसने तलाक़ का इरादा किया लेकिन मुँह से नहीं बोले तो क्या तलाक़ हो जायेगी ?

23-06-2020

184851

27-03-2020

उसने गुस्से में उसे कई बार तलाक़ दे दिया

27-03-2020

172162

12-03-2020

मासिक धर्म की अवस्था में उसे तीन तलाक़ दे दिया।

12-03-2020

133859

11-01-2018

ख़ुलअ, तलाक़ और फ़स्ख़ के बीच अंतर

11-01-2018

22034

31-10-2017

क्रुद्ध व्यक्ति का तलाक़

31-10-2017

96194

08-11-2016

राजेह कथन (सही राय) के अनुसार (एक ही बार में) तीन तलाक़ एक ही शुमार होगी

08-11-2016

20002

24-08-2013

क्या सूद पर कर्ज़ उठाने वाले पति के साथ जीवन यापन करना जायज़ है ?

24-08-2013

181583

05-12-2012

उसे विभिन्न अवसरों पर पाँच बार तलाक़ दे दी

05-12-2012

166433

06-04-2012

उसने अपनी पत्नी से कहा : जब तुम्हें वीज़ा मिल जाए तो तुम मेरी तरफ से आज़ाद हो

06-04-2012

167252

11-02-2012

उसका पति नमाज़ नहीं पढ़ता है और उसे तलाक़ देने से इनकार करता है यहाँ तक कि वह उसे बेटी सौंप दे

11-02-2012

36761

30-03-2011

ई मेल के द्वारा तलाक़ का हुक्म

30-03-2011